Coronavirus In Uttarakhand Latest News: Sample Testing Increased, Backlog Reached More Than 9700 – Coronavirus In Uttarakhand: सैंपल जांच बढ़ी तो 9700 से अधिक पहुंचा बैकलॉग का ग्राफ

0
226


न्यूज डेस्क, अमर उजाला, देहरादून
Updated Tue, 11 Aug 2020 01:00 AM IST

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर कहीं भी, कभी भी।
*Yearly subscription for just ₹249 + Free Coupon worth ₹200

ख़बर सुनें

ख़बर सुनें

कोरोना संक्रमण का पता लगाने के लिए सरकार की तमाम कोशिश के बावजूद उत्तराखंड में सैंपलिंग तो बढ़ी है लेकिन, जांच के लिए भेजे गए सैंपल का बैकलॉग भी बढ़ रहा है। हरिद्वार, पौड़ी और पिथौरागढ़ जिले में सबसे ज्यादा सैंपल का बैकलॉग है। प्रदेश में 15 मार्च से अब तक 1.95 लाख सैंपल की जांच की गई है। सैंपलिंग बढ़ने से कोरोना के मरीजों की तादाद भी बढ़ी है। पहले की तुलना में प्रदेश में जांच लैब बढ़ने से अब रोजाना चार हजार से अधिक सैंपल जांच के लिए भेजे जा रहे हैं।इसके बावजूद भी सैंपल की वेटिंग बढ़ती जा रही है। वर्तमान में प्रदेश में पांच सरकारी और पांच निजी पैथोलॉजी लैब में कोविड सैंपल की जांच की सुविधा है। इसके अलावा सरकार ने सभी जिलों को सैंपल जांच के लिए ट्रू नेट मशीनें दी हैं। जिससे संदिग्ध मरीज में कोरोना संक्रमण का शीघ्र पता लग सके।यह भी पढ़ें: Corona in Uttarakhand: होम आइसोलेशन में रह सकेंगे संक्रमित, लेकिन इन नियमों का पालन करना होगा जरूरीहरिद्वार जिले में 1621, पौड़ी में 1249, पिथौरागढ़ में 1258, उत्तरकाशी में 834, अल्मोड़ा में 1057 और बागेश्वर, चमोली, चंपावत जिले में सैंपल की वेटिंग पांच सौ से अधिक है।  स्वास्थ्य सचिव अमित सिंह नेगी का कहना है कि सभी जिलों को सैंपलिंग बढ़ाने के निर्देश दिए हैं। पहले की तुलना में सैंपल जांच काफी बढ़ी है। प्रतिदिन औसतन पांच हजार से अधिक सैंपल की रिपोर्ट आ रही है। 
तारीख      भेजे गए सैंपल      सैंपल रिपोर्ट     वेटिंग सैंपल6 अगस्त        3932                  3944             90917 अगस्त        5279                  7408             94988 अगस्त        4743                  6206             92759 अगस्त        4062                  3283              9744

सार
जांच के लिए कोविड सैंपल की 9700 से अधिक वेटिंग
हरिद्वार, पौड़ी, पिथौरागढ़ जिले में सबसे ज्यादा सैंपल का बैकलॉग

विस्तार
कोरोना संक्रमण का पता लगाने के लिए सरकार की तमाम कोशिश के बावजूद उत्तराखंड में सैंपलिंग तो बढ़ी है लेकिन, जांच के लिए भेजे गए सैंपल का बैकलॉग भी बढ़ रहा है। हरिद्वार, पौड़ी और पिथौरागढ़ जिले में सबसे ज्यादा सैंपल का बैकलॉग है। 

प्रदेश में 15 मार्च से अब तक 1.95 लाख सैंपल की जांच की गई है। सैंपलिंग बढ़ने से कोरोना के मरीजों की तादाद भी बढ़ी है। पहले की तुलना में प्रदेश में जांच लैब बढ़ने से अब रोजाना चार हजार से अधिक सैंपल जांच के लिए भेजे जा रहे हैं।

इसके बावजूद भी सैंपल की वेटिंग बढ़ती जा रही है। वर्तमान में प्रदेश में पांच सरकारी और पांच निजी पैथोलॉजी लैब में कोविड सैंपल की जांच की सुविधा है। इसके अलावा सरकार ने सभी जिलों को सैंपल जांच के लिए ट्रू नेट मशीनें दी हैं। जिससे संदिग्ध मरीज में कोरोना संक्रमण का शीघ्र पता लग सके।

यह भी पढ़ें: Corona in Uttarakhand: होम आइसोलेशन में रह सकेंगे संक्रमित, लेकिन इन नियमों का पालन करना होगा जरूरीहरिद्वार जिले में 1621, पौड़ी में 1249, पिथौरागढ़ में 1258, उत्तरकाशी में 834, अल्मोड़ा में 1057 और बागेश्वर, चमोली, चंपावत जिले में सैंपल की वेटिंग पांच सौ से अधिक है।  स्वास्थ्य सचिव अमित सिंह नेगी का कहना है कि सभी जिलों को सैंपलिंग बढ़ाने के निर्देश दिए हैं। पहले की तुलना में सैंपल जांच काफी बढ़ी है। प्रतिदिन औसतन पांच हजार से अधिक सैंपल की रिपोर्ट आ रही है। 

चार दिनों में कोविड सैंपल जांच की स्थिति

तारीख      भेजे गए सैंपल      सैंपल रिपोर्ट     वेटिंग सैंपल6 अगस्त        3932                  3944             90917 अगस्त        5279                  7408             94988 अगस्त        4743                  6206             92759 अगस्त        4062                  3283              9744

आगे पढ़ें

चार दिनों में कोविड सैंपल जांच की स्थिति



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here