Weather Forecast Update Today In Uttarakhand: Many Highway And Roads Blocked After Landslide – Weather Update: उत्तराखंड में आफत की बारिश, भूस्खलन से बदरीनाथ हाईवे और मसूरी मार्ग समेत कई जगह रास्ते बंद

0
34


न्यूज डेस्क, अमर उजाला, देहरादून
Updated Mon, 17 Aug 2020 12:23 PM IST

मसूरी मार्ग पर मलबा
– फोटो : अमर उजाला

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर कहीं भी, कभी भी।
*Yearly subscription for just ₹249 + Free Coupon worth ₹200

ख़बर सुनें

ख़बर सुनें

उत्तराखंड में बारिश का दौर जारी है। जगह-जगह भूस्खलन ने परेशानी बढ़ा दी है। ऋषिकेश-गंगोत्री नेशनल हाईवे नागणी के पास बंद हो गया है। हाईवे पर रविवार शाम करीब पांच बड़ी संख्या में बोल्डर गिर गए थे। फिलहाल बोल्डर हटाने का काम जारी है। वहीं, यमुनोत्री हाईवे भी राणा चट्टी के पास बोल्डर और मलबा आने से बंद है। बारिश के कारण हाईवे पर बार-बार मलबा और बोल्डर आ रहे हैं। उधर, चमोली जिले में रातभर हुई बारिश के बाद सोमवार सुबह बदरीनाथ हाईवे भी मलबा आने से क्षेत्रपाल में बंद हो गया है। यह भी पढ़ें: Weather Update: उत्तराखंड के चार जिलों में अत्यधिक भारी बारिश का रेड अलर्टघाट-नंदप्रयाग सड़क भी नंदप्रयाग से करीब तीन किलोमीटर की दूरी पर बंद है। गोपेश्वर-मंडल-ऊखीमठ और गोपेश्वर-पोखरी सड़क भी जगह-जगह पर बंद है। इसके कारण ग्रामीणों और बदरीनाथ धाम की यात्रा पर जा रहे यात्रियों को कठिनाईयों का सामना करना पड़ रहा है। 
पहाड़ों की रानी मसूरी में भी लगातार हो रही बारिश से जनजीवन अस्त-व्यस्त हो गया है। मसूरी देहरादून मार्ग पर कोलू खेत में पानी वाले बैंक के पास भूस्खलन से मार्ग क्षतिग्रस्त हो गया है। जिससे लोगों को आवाजाही में खासी परेशानी हो रही है। डीएम आशीष श्रीवास्तव ने भी मौके पर पहुंचकर निरीक्षण किया और जल्द मार्ग को दुरुस्त करने के निर्देश दिए हैं। मसूरी-देहरादून मार्ग, मसूरी-कैंपटी मार्ग, मसूरी-टिहरी मार्ग पर कई जगह मलबा आने से आवाजाही खतरे से भरी है। 
मौसम विभाग ने प्रदेश के चार जिलों में आज भारी बारिश का रेड अलर्ट जारी किया है। वहीं देहरादून सहित तीन जिलों में भारी बारिश का ऑरेंज अलर्ट जारी किया गया है। अन्य हिस्सों में भी हल्की से मध्यम बारिश जारी रह सकती है।मौसम विभाग के निदेशक बिक्रम सिंह ने बताया कि सोमवार को पिथौरागढ़, बागेश्वर, चमोली और नैनीताल जिलों में अत्यधिक भारी बारिश का रेड अलर्ट जारी किया गया है। संबंधित जिला प्रशासन को भी सतर्क रहने की सलाह दी गई है। वहीं, विभाग ने अपील है कि ऐसे मौसम में वह पहाड़ का सफर करने से बचें। 

उत्तराखंड में बारिश का दौर जारी है। जगह-जगह भूस्खलन ने परेशानी बढ़ा दी है। ऋषिकेश-गंगोत्री नेशनल हाईवे नागणी के पास बंद हो गया है। हाईवे पर रविवार शाम करीब पांच बड़ी संख्या में बोल्डर गिर गए थे। फिलहाल बोल्डर हटाने का काम जारी है। 

वहीं, यमुनोत्री हाईवे भी राणा चट्टी के पास बोल्डर और मलबा आने से बंद है। बारिश के कारण हाईवे पर बार-बार मलबा और बोल्डर आ रहे हैं। उधर, चमोली जिले में रातभर हुई बारिश के बाद सोमवार सुबह बदरीनाथ हाईवे भी मलबा आने से क्षेत्रपाल में बंद हो गया है। 
यह भी पढ़ें: Weather Update: उत्तराखंड के चार जिलों में अत्यधिक भारी बारिश का रेड अलर्ट

घाट-नंदप्रयाग सड़क भी नंदप्रयाग से करीब तीन किलोमीटर की दूरी पर बंद है। गोपेश्वर-मंडल-ऊखीमठ और गोपेश्वर-पोखरी सड़क भी जगह-जगह पर बंद है। इसके कारण ग्रामीणों और बदरीनाथ धाम की यात्रा पर जा रहे यात्रियों को कठिनाईयों का सामना करना पड़ रहा है। 

मसूरी में भूस्खलन से कई मार्ग बंद

पहाड़ों की रानी मसूरी में भी लगातार हो रही बारिश से जनजीवन अस्त-व्यस्त हो गया है। मसूरी देहरादून मार्ग पर कोलू खेत में पानी वाले बैंक के पास भूस्खलन से मार्ग क्षतिग्रस्त हो गया है। जिससे लोगों को आवाजाही में खासी परेशानी हो रही है। डीएम आशीष श्रीवास्तव ने भी मौके पर पहुंचकर निरीक्षण किया और जल्द मार्ग को दुरुस्त करने के निर्देश दिए हैं। मसूरी-देहरादून मार्ग, मसूरी-कैंपटी मार्ग, मसूरी-टिहरी मार्ग पर कई जगह मलबा आने से आवाजाही खतरे से भरी है। 

भारी बारिश का रेड अलर्ट

मौसम विभाग ने प्रदेश के चार जिलों में आज भारी बारिश का रेड अलर्ट जारी किया है। वहीं देहरादून सहित तीन जिलों में भारी बारिश का ऑरेंज अलर्ट जारी किया गया है। अन्य हिस्सों में भी हल्की से मध्यम बारिश जारी रह सकती है।मौसम विभाग के निदेशक बिक्रम सिंह ने बताया कि सोमवार को पिथौरागढ़, बागेश्वर, चमोली और नैनीताल जिलों में अत्यधिक भारी बारिश का रेड अलर्ट जारी किया गया है। संबंधित जिला प्रशासन को भी सतर्क रहने की सलाह दी गई है। वहीं, विभाग ने अपील है कि ऐसे मौसम में वह पहाड़ का सफर करने से बचें। 

आगे पढ़ें

मसूरी में भूस्खलन से कई मार्ग बंद



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here