Uttarakhand Weather Update: Today Rain Expected In Many Districts Yamunotri Highway Closed – Uttarakhand Weather : प्रदेश के ज्यादातर जिलों में आज बारिश की संभावना, यमुनोत्री हाईवे तीन जगह बंद

0
50


पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर कहीं भी, कभी भी।
*Yearly subscription for just ₹249 + Free Coupon worth ₹200

ख़बर सुनें

ख़बर सुनें

राजधानी देहरादून समेत प्रदेश के ज्यादातर जिलों में शुक्रवार बारिश होने की संभावना है। मौसम विभाग ने पिथौरागढ़, बागेश्वर और नैनीताल जिलों में कुछ स्थानों पर भारी बारिश होने की चेतावनी भी जारी की है।लिपुलेख के बाद अब गुंजी से ज्योलिंकांग तक जल्द बनेगी सड़क, महज डेढ़ घंटे में पहुंच जाएंगे आदि कैलाशमौसम विभाग के अनुसार राजधानी देहरादून, पिथौरागढ़, बागेश्वर, नैनीताल, चंपावत, ऊधमसिंह नगर, पौड़ी और टिहरी जिले की ज्यादातर जगहों पर बारिश हो सकती है। अल्मोड़ा, रुद्रप्रयाग, चमोली, उत्तरकाशी और हरिद्वार जिलों में कुछ स्थानों पर हल्की बारिश होने का अनुमान है।वहीं बड़कोट की यमुनोत्री घाटी में गुरुवार रात तेज बारिश होने से यमुनोत्री हाईवे ओजरी डबरकोट, पालीगाड़, कुथनौर के पास मलबा आने से बंद हो गया है। अभी यहां धूप खिली हुई है। भारी बारिश से यमुना नदी का जलस्तर बढ़ने से रवाडा नगाणगांव मार्ग पर दूसरे दिन भी आवाजाही नहीं हो सकी। खरादी के पास यमुना नदी में एक वाहन फंस गया है। जिसे जेसीबी मशीन के मदद से बाहर निकाला गया।रुद्रप्रयाग जिले की क्यूंजा घाटी में गुरुवार देर रात मूसलाधार बारिश और अतिवृष्टि से कणसील गांव में खेती, सिंचाई नहर, पेयजल लाइन और पैदल मार्गों को भारी नुकसान पहुंचा है।
मलबा आने से बदरीनाथ हाईवे पागल नाले और लामबगड़ में घंटों बंद रहा। बुधवार रात को बंद हुआ हाईवे एनएच की जेसीबी ने गुरुवार को खोला। हाईवे बंद होने से यात्री घंटों जाम में फंसे रहे।
 
बुधवार रात को लामबगड़ और पागल नाले में भारी मात्रा में मलबा आ गया था, जिससे हाईवे पर यातायात ठप हो गया। पागल नाले में एनएच की जेसीबी गुरुवार सुबह आठ बजे से मलबा हटाने में जुट गई।करीब एक घंटे की मशक्कत के बाद सुबह नौ बजे हाईवे खोला जा सका। वहीं लामबगड़ में भी जेसीबी ने मलबा हटाने के बाद दोपहर करीब साढ़े 12 बजे हाईवे खोल दिया।
प्रदेश में बारिश के कारण मलबा आने से करीब 42 सड़कें बंद हैं। इनमें अधिकांश सड़कें ग्रामीण क्षेत्रों में हैं। लोक निर्माण विभाग इन सड़कों को खोलने में जुटा है। यदि मौसम ने साथ दिया तो इन सभी मार्गों को शुक्रवार तक खोल दिया जाएगा। राज्य आपदा परिचालन केंद्र के मुताबिक प्रदेश में सभी प्रमुख राष्ट्रीय राजमार्ग छोटे व बड़े वाहनों के लिए खुले हैं।बंद सड़कों का जिलावार ब्योरादेहरादून – 10उत्तरकाशी – 02पौड़ी – 10चंपावत – 03टिहरी – 05बागेश्वर – 04पिथौरागढ़  – 08कुल – 42

राजधानी देहरादून समेत प्रदेश के ज्यादातर जिलों में शुक्रवार बारिश होने की संभावना है। मौसम विभाग ने पिथौरागढ़, बागेश्वर और नैनीताल जिलों में कुछ स्थानों पर भारी बारिश होने की चेतावनी भी जारी की है।

लिपुलेख के बाद अब गुंजी से ज्योलिंकांग तक जल्द बनेगी सड़क, महज डेढ़ घंटे में पहुंच जाएंगे आदि कैलाश

मौसम विभाग के अनुसार राजधानी देहरादून, पिथौरागढ़, बागेश्वर, नैनीताल, चंपावत, ऊधमसिंह नगर, पौड़ी और टिहरी जिले की ज्यादातर जगहों पर बारिश हो सकती है। अल्मोड़ा, रुद्रप्रयाग, चमोली, उत्तरकाशी और हरिद्वार जिलों में कुछ स्थानों पर हल्की बारिश होने का अनुमान है।

वहीं बड़कोट की यमुनोत्री घाटी में गुरुवार रात तेज बारिश होने से यमुनोत्री हाईवे ओजरी डबरकोट, पालीगाड़, कुथनौर के पास मलबा आने से बंद हो गया है। अभी यहां धूप खिली हुई है। भारी बारिश से यमुना नदी का जलस्तर बढ़ने से रवाडा नगाणगांव मार्ग पर दूसरे दिन भी आवाजाही नहीं हो सकी। खरादी के पास यमुना नदी में एक वाहन फंस गया है। जिसे जेसीबी मशीन के मदद से बाहर निकाला गया।रुद्रप्रयाग जिले की क्यूंजा घाटी में गुरुवार देर रात मूसलाधार बारिश और अतिवृष्टि से कणसील गांव में खेती, सिंचाई नहर, पेयजल लाइन और पैदल मार्गों को भारी नुकसान पहुंचा है।

पागल नाले और लामबगड़ में घंटों बंद रहा बदरीनाथ हाईवे

मलबा आने से बदरीनाथ हाईवे पागल नाले और लामबगड़ में घंटों बंद रहा। बुधवार रात को बंद हुआ हाईवे एनएच की जेसीबी ने गुरुवार को खोला। हाईवे बंद होने से यात्री घंटों जाम में फंसे रहे।
 
बुधवार रात को लामबगड़ और पागल नाले में भारी मात्रा में मलबा आ गया था, जिससे हाईवे पर यातायात ठप हो गया। पागल नाले में एनएच की जेसीबी गुरुवार सुबह आठ बजे से मलबा हटाने में जुट गई।करीब एक घंटे की मशक्कत के बाद सुबह नौ बजे हाईवे खोला जा सका। वहीं लामबगड़ में भी जेसीबी ने मलबा हटाने के बाद दोपहर करीब साढ़े 12 बजे हाईवे खोल दिया।

प्रदेश में 42 से अधिक सडकें बंद

प्रदेश में बारिश के कारण मलबा आने से करीब 42 सड़कें बंद हैं। इनमें अधिकांश सड़कें ग्रामीण क्षेत्रों में हैं। लोक निर्माण विभाग इन सड़कों को खोलने में जुटा है। यदि मौसम ने साथ दिया तो इन सभी मार्गों को शुक्रवार तक खोल दिया जाएगा। राज्य आपदा परिचालन केंद्र के मुताबिक प्रदेश में सभी प्रमुख राष्ट्रीय राजमार्ग छोटे व बड़े वाहनों के लिए खुले हैं।बंद सड़कों का जिलावार ब्योरादेहरादून – 10उत्तरकाशी – 02पौड़ी – 10चंपावत – 03टिहरी – 05बागेश्वर – 04पिथौरागढ़  – 08कुल – 42

आगे पढ़ें

पागल नाले और लामबगड़ में घंटों बंद रहा बदरीनाथ हाईवे



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here