Uttarakhand News: Weekly Off Starts In Uttarakhand Police Hilly Districts – उत्तराखंड: पहाड़ी जिलों में पुलिसकर्मियों को मिलेगा एक जनवरी से साप्ताहिक अवकाश

0
107


न्यूज़ डेस्क, अमर उजाला, देहरादून
Updated Wed, 16 Dec 2020 12:06 PM IST

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर कहीं भी, कभी भी।
*Yearly subscription for just ₹299 Limited Period Offer. HURRY UP!

ख़बर सुनें

ख़बर सुनें

पहाड़ों पर पुलिसकर्मियों को बड़ी राहत देते हुए साप्ताहिक अवकाश की व्यवस्था शुरू की जा रही है। शुरुआती तौर पर कांस्टेबल और हेड कांस्टेबल को सभी नौ पहाड़ी जनपदों में आगामी। एक जनवरी से साप्ताहिक अवकाश की सुविधा दी जाएगी। हालांकि, आपातकाल में उन्हें ड्यूटी पर बुलाया जा सकता है।दरअसल, डीजीपी अशोक कुमार ने पदभार संभालते ही पुलिसकर्मियों के साप्ताहिक अवकाश को प्राथमिकता में रखा था। उन्होंने बताया कि पहाड़ के सभी नौ जनपदों में कांस्टेबल और हेड कांस्टेबल के लिए साप्ताहिक अवकाश की व्यवस्था एक जनवरी से की जा रही है। इसके लिए उनका रोस्टर तैयार किया जाएगा। क्योंकि थाने चौकी सप्ताह के सातों दिन खुलते हैं।इसलिए यह जिम्मेदारी थानाध्यक्ष की होगी कि किसको किस दिन छुट्टी दी जानी है। इसके लिए सभी के दिन तय किए जाने हैं। पहाड़ी जनपदों में टिहरी गढ़वाल, पौड़ी गढ़वाल, पिथौरागढ़, चमोली, चंपावत, बागेश्वर, अल्मोड़ा आदि शामिल हैं।जबकि देहरादून, नैनीताल, हरिद्वार और ऊधमसिंह नगर को इससे बाहर रखा गया है। उन्होंने बताया कि यदि इन जनपदों में यह व्यवस्था कामयाब रही तो अन्य में भी व्यवस्था को लागू किया जाएगा। पिछले दिनों डीजीपी ने नैनीताल में सम्मेलन के दौरान साप्ताहिक अवकाश की बात कही थी। डीजीपी का मानना है कि साप्ताहिक अवकाश से सिपाहियों को मानसिक राहत मिलेगी और उनके काम को भी गुणवत्तापूर्ण बनाया जा सकता है।

पहाड़ों पर पुलिसकर्मियों को बड़ी राहत देते हुए साप्ताहिक अवकाश की व्यवस्था शुरू की जा रही है। शुरुआती तौर पर कांस्टेबल और हेड कांस्टेबल को सभी नौ पहाड़ी जनपदों में आगामी। एक जनवरी से साप्ताहिक अवकाश की सुविधा दी जाएगी। हालांकि, आपातकाल में उन्हें ड्यूटी पर बुलाया जा सकता है।

दरअसल, डीजीपी अशोक कुमार ने पदभार संभालते ही पुलिसकर्मियों के साप्ताहिक अवकाश को प्राथमिकता में रखा था। उन्होंने बताया कि पहाड़ के सभी नौ जनपदों में कांस्टेबल और हेड कांस्टेबल के लिए साप्ताहिक अवकाश की व्यवस्था एक जनवरी से की जा रही है। इसके लिए उनका रोस्टर तैयार किया जाएगा। क्योंकि थाने चौकी सप्ताह के सातों दिन खुलते हैं।

इसलिए यह जिम्मेदारी थानाध्यक्ष की होगी कि किसको किस दिन छुट्टी दी जानी है। इसके लिए सभी के दिन तय किए जाने हैं। पहाड़ी जनपदों में टिहरी गढ़वाल, पौड़ी गढ़वाल, पिथौरागढ़, चमोली, चंपावत, बागेश्वर, अल्मोड़ा आदि शामिल हैं।

जबकि देहरादून, नैनीताल, हरिद्वार और ऊधमसिंह नगर को इससे बाहर रखा गया है। उन्होंने बताया कि यदि इन जनपदों में यह व्यवस्था कामयाब रही तो अन्य में भी व्यवस्था को लागू किया जाएगा। पिछले दिनों डीजीपी ने नैनीताल में सम्मेलन के दौरान साप्ताहिक अवकाश की बात कही थी। डीजीपी का मानना है कि साप्ताहिक अवकाश से सिपाहियों को मानसिक राहत मिलेगी और उनके काम को भी गुणवत्तापूर्ण बनाया जा सकता है।



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here