Uttarakhand News: Harak Singh Rawat Comment On Trivendra Singh Rawat And Harish Rawat Meeting – उत्तराखंड: हरीश-त्रिवेंद्र की भेंट पर बोले हरक सिंह रावत- इस्तेमाल बारूद से धमाके की उम्मीद नहीं

0
10


अमर उजाला ब्यूरो, देहरादून
Published by: अलका त्यागी
Updated Tue, 23 Nov 2021 12:00 AM IST

सार
सोमवार को त्रिवेंद्र सिंह रावत और हरीश रावत की मुलाकात की तस्वीर सोशल मीडिया पर खूब वायरल हुईं थी।

कैबिनेट मंत्री हरक सिंह रावत
– फोटो : फाइल फोटो

ख़बर सुनें

ख़बर सुनें

उत्तराखंड के पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत और त्रिवेंद्र सिंह रावत की मुलाकात पर कैबिनेट मंत्री डॉ. हरक सिंह रावत का एक बयान सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है। डॉ. रावत ने दोनों पूर्व मुख्यमंत्रियों की भेंट पर तंज किया कि इस्तेमाल बारूद से धमाके की उम्मीद नहीं की जा सकती। हालांकि उन्होंने यह भी कहा कि उत्तराखंड छोटा सा प्रदेश है और राज्य हित में सभी को आपस में मिलते-जुलते रहना चाहिए।सोमवार को त्रिवेंद्र सिंह रावत और हरीश रावत की मुलाकात की तस्वीर सोशल मीडिया पर खूब वायरल हुईं। तस्वीर के बहाने दोनों दिग्गजों की मुलाकात के सियासी निहितार्थ भी निकाले गए। हरक सिंह रावत इन दोनों दिग्गजों के निशाने पर रहे हैं। सोमवार को एक कार्यक्रम के दौरान मीडिया कर्मियों ने हरक सिंह रावत से हरीश-त्रिवेंद्र की मुलाकात और तस्वीर के बारे में पूछा।यह भी पढ़ें… उत्तराखंड: चुनाव से पहले हरीश रावत और त्रिवेंद्र की मुलाकात की सियासी गलियारों में खूब हो रही चर्चासोशल मीडिया में वायरल वीडियो में हरक कह रहे हैं कि वह इस पर कोई टिप्पणी नहीं करेंगे, लेकिन फिर वह खुद को रोक नहीं पाए। उन्होंने कहा कि मिलना जुलना सामान्य बात है। फिर वह बोले, बारूद अगर प्रयोग कर दिया जाए और उसे दोबारा भरेंगे तो मैं समझता हूं कि आप धमाका होने की उम्मीद करेंगे। इससे कोई फर्क नहीं पड़ता। फर्क इससे पड़ता है कि जनता क्या चाहती है। मैं चाहता हूं त्रिवेंद्र भाई से मिलूं पर वह कटे-कटे रहते हैंकैबिनेट मंत्री हरक सिंह रावत ने कहा कि अच्छा है सबको मिलते-जुलते रहना चाहिए। मैं तो कोटद्वार में सुरेंद्र भाई (पूर्व कैबिनेट मंत्री सुरेंद्र सिंह नेगी) से मिलना चाहता हूं, लेकिन वह मुझे मिलते ही नहीं। मैं तो हरीश भाई से भी मिलने को तैयार हूं। चाहता हूं कि त्रिवेंद्र भाई से भी मिलूं, लेकिन वह कटे-कटे रहते हैं।

विस्तार

उत्तराखंड के पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत और त्रिवेंद्र सिंह रावत की मुलाकात पर कैबिनेट मंत्री डॉ. हरक सिंह रावत का एक बयान सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है। डॉ. रावत ने दोनों पूर्व मुख्यमंत्रियों की भेंट पर तंज किया कि इस्तेमाल बारूद से धमाके की उम्मीद नहीं की जा सकती। हालांकि उन्होंने यह भी कहा कि उत्तराखंड छोटा सा प्रदेश है और राज्य हित में सभी को आपस में मिलते-जुलते रहना चाहिए।

सोमवार को त्रिवेंद्र सिंह रावत और हरीश रावत की मुलाकात की तस्वीर सोशल मीडिया पर खूब वायरल हुईं। तस्वीर के बहाने दोनों दिग्गजों की मुलाकात के सियासी निहितार्थ भी निकाले गए। हरक सिंह रावत इन दोनों दिग्गजों के निशाने पर रहे हैं। सोमवार को एक कार्यक्रम के दौरान मीडिया कर्मियों ने हरक सिंह रावत से हरीश-त्रिवेंद्र की मुलाकात और तस्वीर के बारे में पूछा।

यह भी पढ़ें… उत्तराखंड: चुनाव से पहले हरीश रावत और त्रिवेंद्र की मुलाकात की सियासी गलियारों में खूब हो रही चर्चा
सोशल मीडिया में वायरल वीडियो में हरक कह रहे हैं कि वह इस पर कोई टिप्पणी नहीं करेंगे, लेकिन फिर वह खुद को रोक नहीं पाए। उन्होंने कहा कि मिलना जुलना सामान्य बात है। फिर वह बोले, बारूद अगर प्रयोग कर दिया जाए और उसे दोबारा भरेंगे तो मैं समझता हूं कि आप धमाका होने की उम्मीद करेंगे। इससे कोई फर्क नहीं पड़ता। फर्क इससे पड़ता है कि जनता क्या चाहती है। 
मैं चाहता हूं त्रिवेंद्र भाई से मिलूं पर वह कटे-कटे रहते हैं
कैबिनेट मंत्री हरक सिंह रावत ने कहा कि अच्छा है सबको मिलते-जुलते रहना चाहिए। मैं तो कोटद्वार में सुरेंद्र भाई (पूर्व कैबिनेट मंत्री सुरेंद्र सिंह नेगी) से मिलना चाहता हूं, लेकिन वह मुझे मिलते ही नहीं। मैं तो हरीश भाई से भी मिलने को तैयार हूं। चाहता हूं कि त्रिवेंद्र भाई से भी मिलूं, लेकिन वह कटे-कटे रहते हैं।



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here