Uttarakhand Lock Down: People Stay At Home, Elephant Walk On Roads In Haridwar – Uttarakhand Lockdown: लॉकडाउन की वजह से घरों में जनता, लेकिन सड़कों पर मदमस्त घूम रहे गजराज

0
45


न्यूज़ डेस्क, अमर उजाला, हरिद्वार
Updated Thu, 02 Apr 2020 12:25 PM IST

सुबह तीन बजे हरकी पैड़ी पर हाथी पहुंच गया
– फोटो : अमर उजाला

ख़बर सुनें

ख़बर सुनें

हरिद्वार में लॉकडाउन की वजह से जनता घरों में है, लेकिन गजराज मदमस्त सड़कों पर घूम रहे हैं। आज सुबह तीन बजे हरकी पैड़ी पर एक हाथी पहुंच गया। लोगों की सूचना पर पुलिस और वन विभाग की टीम मौके पर पहुंची।बताया गया कि जंगल से होते हुए पूरा शहर घूमने के बाद उक्त हाथी मनसा देवी मंदिर से पास से रेलवे ट्रैक होते हुए वापस जंगल चला गया। इस दौरान जंगली हाथी ने कुशा घाट के पास बनी हुई रेलिंग भी तोड़ दी।
इससे पहले विगत पांच मार्च को ऋषिकेश में स्वर्गाश्रम क्षेत्र में भूतनाथ मंदिर के समीप एक साधु को हाथी ने पटक-पटककर मार डाला था। रात को साधु जंगल से सटे रिहायशी क्षेत्र में सो रहा था। आसपास उपस्थित लोगों ने बताया कि तड़के हाथी ने सो रहे साधु पर हमला किया था।इससे पूर्व हाथी ने पास में एक कच्ची दुकान को तोड़ दिया था। साधु की पहचान रामकृष्ण (55) पुत्र जीवनराम, निवासी स्वर्गाश्रम, पौड़ी के रूप में हुई थी। बीते 30 सालों से वह स्वर्गाश्रम में रह रहे थे। 

हरिद्वार में लॉकडाउन की वजह से जनता घरों में है, लेकिन गजराज मदमस्त सड़कों पर घूम रहे हैं। आज सुबह तीन बजे हरकी पैड़ी पर एक हाथी पहुंच गया। लोगों की सूचना पर पुलिस और वन विभाग की टीम मौके पर पहुंची।

बताया गया कि जंगल से होते हुए पूरा शहर घूमने के बाद उक्त हाथी मनसा देवी मंदिर से पास से रेलवे ट्रैक होते हुए वापस जंगल चला गया। इस दौरान जंगली हाथी ने कुशा घाट के पास बनी हुई रेलिंग भी तोड़ दी।

एक साधु को हाथी ने पटक-पटककर मार डाला था

इससे पहले विगत पांच मार्च को ऋषिकेश में स्वर्गाश्रम क्षेत्र में भूतनाथ मंदिर के समीप एक साधु को हाथी ने पटक-पटककर मार डाला था। रात को साधु जंगल से सटे रिहायशी क्षेत्र में सो रहा था। आसपास उपस्थित लोगों ने बताया कि तड़के हाथी ने सो रहे साधु पर हमला किया था।इससे पूर्व हाथी ने पास में एक कच्ची दुकान को तोड़ दिया था। साधु की पहचान रामकृष्ण (55) पुत्र जीवनराम, निवासी स्वर्गाश्रम, पौड़ी के रूप में हुई थी। बीते 30 सालों से वह स्वर्गाश्रम में रह रहे थे। 

आगे पढ़ें

एक साधु को हाथी ने पटक-पटककर मार डाला था



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here