Leopard Attack On Farmer And His Two Sons In Haridwar, Badly Injured – हरिद्वार: खेत में काम कर रहे किसान और उसके दो बेटों पर गुलदार ने किया हमला, बुरी तरह हुए घायल

0
203


न्यूज डेस्क, अमर उजाला, हरिद्वार
Updated Tue, 05 May 2020 12:17 AM IST

ख़बर सुनें

ख़बर सुनें

हरिद्वार के बहादराबाद के औरंगाबाद गांव में एक किसान और उसके दो पुत्रों पर गुलदार ने हमला कर दिया। इसमें किसान का एक पुत्र  गंभीर रूप से घायल हो गया। परिजनों ने घायल का गांव में इलाज कराया। जहां से वन विभाग के कर्मचारी घायल को जिला अस्पताल में इलाज के लिए ले गए हैं। गुलदार के हमले के बाद गेहूं की कटाई कर रहे किसानों में दहशत बनी हुई है।रविवार शाम को औरंगाबाद निवासी किसान चंद्रशेखर अपने पुत्र हर्ष (19) और मुकुल (16) के साथ अपने खेत में गेहूं की फसल काट रहा था। तभी अचानक उनके ऊपर गुलदार ने हमला कर दिया। हमले के दौरान उनका बड़ा पुत्र हर्ष गुलदार के सामने आ गया। गुलदार ने उस पर झपटा मार दिया। गुलदार के हमले से विचलित न होते हुए हर्ष ने भी अपनी दरांती से गुलदार पर वार करना शुरू कर दिया।इस पर गुलदार ने हर्ष के पैरों पर हमला कर दिया। इसी दौरान किसान शेखर ने शोर मचा दिया। इसपर आसपास के खेतों में काम कर रहे किसान मौके पर आ गए। किसानों का शोर सुनकर गुलदार भाग गया। परिजनों ने घायल हर्ष का पहले गांव में ही एक निजी चिकित्सक के यहां इलाज कराया। तभी वन विभाग के कर्मचारी गांव पहुंच गए। वे घायल हर्ष को अपने साथ जिला अस्पताल इलाज के लिए ले गए।ग्रामीण चरण सिंह चौहान ने बताया कि झबरपुर क्षेत्र में औरंगाबाद, आनेकी और पूरनपुर गांव के खेत हैं। जहां अभी किसान गेहूं की कटाई कर रहे हैं, लेकिन इस घटना के बाद किसानों में गुलदार का भय व्याप्त है। इस संबंध में ग्रामीणों ने वन विभाग के कर्मचारियों से सुरक्षा की गुहार लगाई है ताकि किसान अपनी फसल काट सके और खेतों में आ जा सके। विधायक आदेश चौहान ने भी वन विभाग के अधिकारियों से वार्ता कर गुलदार के खेतों में मौजूदगी को लेकर किसानों को सुरक्षा मुहैया कराने को कहा है।

सार
औरंगाबाद में अपने पिता और भाई के साथ गेहूं काट रहा था युवक
वन विभाग की टीम ने घायल युवक को जिला अस्पताल कराया भर्ती

विस्तार
हरिद्वार के बहादराबाद के औरंगाबाद गांव में एक किसान और उसके दो पुत्रों पर गुलदार ने हमला कर दिया। इसमें किसान का एक पुत्र  गंभीर रूप से घायल हो गया। परिजनों ने घायल का गांव में इलाज कराया। जहां से वन विभाग के कर्मचारी घायल को जिला अस्पताल में इलाज के लिए ले गए हैं। गुलदार के हमले के बाद गेहूं की कटाई कर रहे किसानों में दहशत बनी हुई है।

रविवार शाम को औरंगाबाद निवासी किसान चंद्रशेखर अपने पुत्र हर्ष (19) और मुकुल (16) के साथ अपने खेत में गेहूं की फसल काट रहा था। तभी अचानक उनके ऊपर गुलदार ने हमला कर दिया। हमले के दौरान उनका बड़ा पुत्र हर्ष गुलदार के सामने आ गया। गुलदार ने उस पर झपटा मार दिया। गुलदार के हमले से विचलित न होते हुए हर्ष ने भी अपनी दरांती से गुलदार पर वार करना शुरू कर दिया।

इस पर गुलदार ने हर्ष के पैरों पर हमला कर दिया। इसी दौरान किसान शेखर ने शोर मचा दिया। इसपर आसपास के खेतों में काम कर रहे किसान मौके पर आ गए। किसानों का शोर सुनकर गुलदार भाग गया। परिजनों ने घायल हर्ष का पहले गांव में ही एक निजी चिकित्सक के यहां इलाज कराया। तभी वन विभाग के कर्मचारी गांव पहुंच गए। वे घायल हर्ष को अपने साथ जिला अस्पताल इलाज के लिए ले गए।ग्रामीण चरण सिंह चौहान ने बताया कि झबरपुर क्षेत्र में औरंगाबाद, आनेकी और पूरनपुर गांव के खेत हैं। जहां अभी किसान गेहूं की कटाई कर रहे हैं, लेकिन इस घटना के बाद किसानों में गुलदार का भय व्याप्त है। इस संबंध में ग्रामीणों ने वन विभाग के कर्मचारियों से सुरक्षा की गुहार लगाई है ताकि किसान अपनी फसल काट सके और खेतों में आ जा सके। विधायक आदेश चौहान ने भी वन विभाग के अधिकारियों से वार्ता कर गुलदार के खेतों में मौजूदगी को लेकर किसानों को सुरक्षा मुहैया कराने को कहा है।



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here