India China Dispute: Dehradun Hotel Industry Decided To Ban Chinese Citizens And Product In Hotel – देहरादून के होटलों में चीन के नागरिकों पर बैन, चीनी उत्पादों और खाद्य वस्तुओं पर भी लगाया प्रतिबंध

0
4


न्यूज डेस्क, अमर उजाला, देहरादून
Updated Tue, 30 Jun 2020 12:30 AM IST

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर Free मेंकहीं भी, कभी भी।
70 वर्षों से करोड़ों पाठकों की पसंद

ख़बर सुनें

ख़बर सुनें

केंद्र सरकार के चीन की कई मोबाइल एप को बैन करने के बाद देहरादून के व्यवसायियों ने फैसला लिया है कि शहर के होटलों में चीनी नागरिकों को प्रवेश नहीं दिया जाएगा। बैठक कर होटल व्यवसायियों की एसोसिएशन ने चीन के नागरिकों को कमरे न देने का निर्णय लिया है।साथ ही सभी ने इस बात पर भी सहमति जताई कि होटलों में चीनी उत्पादों और खाद्य वस्तुओं को भी नहीं रखेंगे। सोमवार को दून होटल ऑनर्स एसोसिएशन की त्यागी रोड स्थित होटल अभिनंदन में आपात बैठक हुई।बैठक में सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करते हुए कोर कमेटी के सात सदस्यों ने भाग लिया। बैठक में सबसे पहले चीन सीमा पर शहीद हुए सैनिकों को श्रद्धांजलि अर्पित की गई। निर्णय लिया गया कि चीन के नागरिकों को कोई भी होटल व्यवसायी अपने होटलों में नहीं ठहराएगा।
साथ ही होटलों में न तो चाइनीज फूड बनेगा और न ही चीन निर्मित उत्पादों को रखा जाएगा। कोर कमेटी के सदस्यों ने मोबाइल पर ही बाकी सदस्यों को भी इस बारे में अवगत कराया। इस पर सभी सदस्यों ने सहमति जताते हुए इसका पालन करने की बात कही। एसोसिएशन के अध्यक्ष संजय गुप्ता ने बताया कि चीन के विरोध स्वरूप यह आपात बैठक बुलाई गई थी। बैठक में लिए गए निर्णय से एसोसिएशन के सभी सदस्य सहमत हैं। उनकी एसोसिएशन में शामिल सदस्यों के शहर के लगभग 25 प्रमुख होटल हैं। बैठक में एसोसिएशन के अध्यक्ष संजय गुप्ता, महासचिव विजय टंडन, कोषाध्यक्ष राकेश मितल, मनदीप डंग, विजय गोयल, राजेश भारद्वाज शामिल रहे। 

सार
दून होटल ऑनर्स एसोसिएशन ने आपात बैठक बुलाकर लिया फैसला
एसोसिएशन के शहर में है करीब 25 प्रमुख होटल

विस्तार
केंद्र सरकार के चीन की कई मोबाइल एप को बैन करने के बाद देहरादून के व्यवसायियों ने फैसला लिया है कि शहर के होटलों में चीनी नागरिकों को प्रवेश नहीं दिया जाएगा। बैठक कर होटल व्यवसायियों की एसोसिएशन ने चीन के नागरिकों को कमरे न देने का निर्णय लिया है।

साथ ही सभी ने इस बात पर भी सहमति जताई कि होटलों में चीनी उत्पादों और खाद्य वस्तुओं को भी नहीं रखेंगे। सोमवार को दून होटल ऑनर्स एसोसिएशन की त्यागी रोड स्थित होटल अभिनंदन में आपात बैठक हुई।

बैठक में सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करते हुए कोर कमेटी के सात सदस्यों ने भाग लिया। बैठक में सबसे पहले चीन सीमा पर शहीद हुए सैनिकों को श्रद्धांजलि अर्पित की गई। निर्णय लिया गया कि चीन के नागरिकों को कोई भी होटल व्यवसायी अपने होटलों में नहीं ठहराएगा।

चाइनीज फूड भी नहीं बनेगा

साथ ही होटलों में न तो चाइनीज फूड बनेगा और न ही चीन निर्मित उत्पादों को रखा जाएगा। कोर कमेटी के सदस्यों ने मोबाइल पर ही बाकी सदस्यों को भी इस बारे में अवगत कराया। इस पर सभी सदस्यों ने सहमति जताते हुए इसका पालन करने की बात कही। एसोसिएशन के अध्यक्ष संजय गुप्ता ने बताया कि चीन के विरोध स्वरूप यह आपात बैठक बुलाई गई थी। बैठक में लिए गए निर्णय से एसोसिएशन के सभी सदस्य सहमत हैं। उनकी एसोसिएशन में शामिल सदस्यों के शहर के लगभग 25 प्रमुख होटल हैं। बैठक में एसोसिएशन के अध्यक्ष संजय गुप्ता, महासचिव विजय टंडन, कोषाध्यक्ष राकेश मितल, मनदीप डंग, विजय गोयल, राजेश भारद्वाज शामिल रहे। 

आगे पढ़ें

चाइनीज फूड भी नहीं बनेगा



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here