Haj Yatra 2021: This Time Only People Between 18 And 65 Years Will Be Able To Go Haj – हज यात्रा 2021 : इस बार 18 से 65 वर्ष के लोग ही कर सकेंगे हज, कोविड की वजह से बदले नियम

0
124


न्यूज़ डेस्क, अमर उजाला, देहरादून

Updated Sun, 08 Nov 2020 01:30 AM IST

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर

कहीं भी, कभी भी।

*Yearly subscription for just ₹299 Limited Period Offer. HURRY UP!

ख़बर सुनें

ख़बर सुनें

हज यात्रा 2021 के लिए इस बार 65 वर्ष से अधिक आयु के लोगों को अनुमति नहीं दी जाएगी। कोविड-19 की वजह से हज और उमरा करने वालों के लिए आयु सीमा की बाध्यता लागू कर दी गई है। जिनकी आयु इससे कम या ज्यादा होगी, उन्हें अगले साल हज यात्रा पर जाने का मौका नहीं मिलेगा।
 
अगले साल होने वाली हज के लिए ऑनलाइन आवेदन प्रक्रिया शुरू हो चुकी है। अभी तक 70 वर्ष से अधिक आयु वाले हज यात्रियों को अलग से आरक्षण दिया जाता था लेकिन कोविड-19 की वजह से यह आरक्षण खत्म कर दिया गया है। हज यात्रा पर जाने के लिए पासपोर्ट दस दिसंबर से पूर्व जारी हुआ होना जरूरी है। हज आवेदन के लिए रंगीन पासपोर्ट साइज फोटो, पासपोर्ट की स्कैन की हुई कॉपी, कैंसल चेक के साथ ही आधार, बैंक पासबुक आदि कोई एड्रेस प्रूफ की कॉपी होना जरूरी है। राज्य हज कमेटी के अध्यक्ष शमीम आलम ने बताया कि हज के लिए दस दिसंबर तक ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं।इसके बाद जनवरी में कुर्रादांजी यानी लॉटरी से हाजियों का चयन किया जाएगा। इसके बाद एक मार्च तक हज यात्रा के खर्च के तौर पर पहली किश्त जमा करानी होगी। हज यात्रा 19 जुलाई को होगी। जिसके लिए 26 जून से 13 जुलाई तक फ्लाइट जाएगी।

हज यात्रा 2021 के लिए इस बार 65 वर्ष से अधिक आयु के लोगों को अनुमति नहीं दी जाएगी। कोविड-19 की वजह से हज और उमरा करने वालों के लिए आयु सीमा की बाध्यता लागू कर दी गई है। जिनकी आयु इससे कम या ज्यादा होगी, उन्हें अगले साल हज यात्रा पर जाने का मौका नहीं मिलेगा।

 

अगले साल होने वाली हज के लिए ऑनलाइन आवेदन प्रक्रिया शुरू हो चुकी है। अभी तक 70 वर्ष से अधिक आयु वाले हज यात्रियों को अलग से आरक्षण दिया जाता था लेकिन कोविड-19 की वजह से यह आरक्षण खत्म कर दिया गया है। हज यात्रा पर जाने के लिए पासपोर्ट दस दिसंबर से पूर्व जारी हुआ होना जरूरी है। 

हज आवेदन के लिए रंगीन पासपोर्ट साइज फोटो, पासपोर्ट की स्कैन की हुई कॉपी, कैंसल चेक के साथ ही आधार, बैंक पासबुक आदि कोई एड्रेस प्रूफ की कॉपी होना जरूरी है। राज्य हज कमेटी के अध्यक्ष शमीम आलम ने बताया कि हज के लिए दस दिसंबर तक ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं।इसके बाद जनवरी में कुर्रादांजी यानी लॉटरी से हाजियों का चयन किया जाएगा। इसके बाद एक मार्च तक हज यात्रा के खर्च के तौर पर पहली किश्त जमा करानी होगी। हज यात्रा 19 जुलाई को होगी। जिसके लिए 26 जून से 13 जुलाई तक फ्लाइट जाएगी।



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here