Coronavirus Uttarakhand Lockdown News Update: – Uttarakhand Lockdown: शराब के सुरूर के चक्कर में लुट मत जाइएगा हुजूर, ऐसे हो रही है ठगी

0
118


न्यूज़ डेस्क, अमर उजाला, देहरादून
Updated Thu, 09 Apr 2020 08:43 AM IST

ख़बर सुनें

ख़बर सुनें

लॉकडाउन में सुरापान के शौकीनों पर इस वक्त ठगों की भी नजर है। यदि आप भी कहीं से होम डिलिवरी कराने की बात अपने जहन में सोच रहे हैं तो जरा सावधान हो जाइए। क्योंकि, इस वक्त ठगों ने इन शौकीनों से ही ठगी करने की योजना बनाई है।फेसबुक पर इन दिनों कई मोबाइल नंबर वायरल हो रहे हैं, जिन पर ठग पहले रकम जमा करा रहे हैं। ऐसे ही एक मामले में दून पुलिस ने जांच भी शुरू कर दी है।दरअसल, इस नंबर पर जब अमर उजाला के रिपोर्टर ने अपने साथी से बात कराई तो उसकी तमाम बातें संदिग्ध लगी। फोन पर बात करने वाला खुद को शराब ठेके का मालिक बता रहा है।
यही नहीं वह पहले इसके लिए एडवांस रकम मांग रहा है। पेटीएम, गूगल पे आदि माध्यम नहीं है तो डेबिट कार्ड की डीटेल भी इस कथित ठेकेदार को चलेगी। ऐसे में आपको सुरूर हो या न हो, लेकिन आपके खाते पर डाका पहले लग जाएगा। इस संदिग्धता के आधार पर ही इसकी जानकारी पुलिस को दी गई। पुलिस ने इस नंबर के स्थानीय होने से इनकार किया है और प्राथमिक जांच शुरू कर दी है।पुलिस अधीक्षक नगर श्वेता चौबे ने बताया कि यह नंबर राजस्थान का है। प्राथमिक जांच में यह ठग ही लग रहा है। एसओजी को इस मामले की जांच सौंपी गई है। जल्द ही इसके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।
उधर से फोन रिसिव होने के बादरिपोर्टर का साथी- हैलो…भाई वो मिलेगी क्या?कथित ठेकेदार- क्या दवा या दारू?रिपोर्टर का साथी- हां भाई दारू…सीधे कहने में जरा ऐसा ही लगता है ना?कथित ठेकेदार- हां मिल जाएगी, लेकिन इसके लिए पैसे पहले देने होंगे?रिपोर्टर का साथी- अच्छा, कैसे देने होंगे?कथित ठेकेदार- आपके पास पेटीएम है?रिपोर्टर का साथी- नहीं, मेरे पास तो नहीं है?कथित ठेकेदार- तो कुछ ऐसा कोई और जरिया?रिपोर्टर का साथी- नहीं मेरे पास नहीं है।कथित ठेकेदार- तो डेबिट कार्ड तो है ना उसका नंबर ही बता दो?रिपोर्टर का साथी- ठीक है मैं लेने जाता हूं डेबिट कार्ड?कथित ठेकेदार- कहां से लेकर आ रहे हो डेबिट कार्ड?रिपोर्टर का साथी- वो आज मेरा पर्स घर पर रह गया था?कथित ठेकेदार – अच्छा अच्छा ठीक है…। इसके बाद रिपोर्टर के इशारे पर उनका साथी फोन काट देता है।

सार
फेसबुक पर शराब की होम डिलिवरी के लिए वायरल हो रहा मोबाइल नंबर
डिलिवरी से पहले मांग रहे खाते की डिटेल, पुलिस ने शुरू कराई मामले की जांच
अमर उजाला से बातचीत में ठग ने  कहा पहले देनी होगी रकम, बाद में डिलिवरी

विस्तार
लॉकडाउन में सुरापान के शौकीनों पर इस वक्त ठगों की भी नजर है। यदि आप भी कहीं से होम डिलिवरी कराने की बात अपने जहन में सोच रहे हैं तो जरा सावधान हो जाइए। क्योंकि, इस वक्त ठगों ने इन शौकीनों से ही ठगी करने की योजना बनाई है।

फेसबुक पर इन दिनों कई मोबाइल नंबर वायरल हो रहे हैं, जिन पर ठग पहले रकम जमा करा रहे हैं। ऐसे ही एक मामले में दून पुलिस ने जांच भी शुरू कर दी है।दरअसल, इस नंबर पर जब अमर उजाला के रिपोर्टर ने अपने साथी से बात कराई तो उसकी तमाम बातें संदिग्ध लगी। फोन पर बात करने वाला खुद को शराब ठेके का मालिक बता रहा है।

पुलिस ने शुरू की जांच

यही नहीं वह पहले इसके लिए एडवांस रकम मांग रहा है। पेटीएम, गूगल पे आदि माध्यम नहीं है तो डेबिट कार्ड की डीटेल भी इस कथित ठेकेदार को चलेगी। ऐसे में आपको सुरूर हो या न हो, लेकिन आपके खाते पर डाका पहले लग जाएगा। इस संदिग्धता के आधार पर ही इसकी जानकारी पुलिस को दी गई। पुलिस ने इस नंबर के स्थानीय होने से इनकार किया है और प्राथमिक जांच शुरू कर दी है।पुलिस अधीक्षक नगर श्वेता चौबे ने बताया कि यह नंबर राजस्थान का है। प्राथमिक जांच में यह ठग ही लग रहा है। एसओजी को इस मामले की जांच सौंपी गई है। जल्द ही इसके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।

ये हुई बातचीत, ऐसे हुआ शक 

उधर से फोन रिसिव होने के बादरिपोर्टर का साथी- हैलो…भाई वो मिलेगी क्या?कथित ठेकेदार- क्या दवा या दारू?रिपोर्टर का साथी- हां भाई दारू…सीधे कहने में जरा ऐसा ही लगता है ना?कथित ठेकेदार- हां मिल जाएगी, लेकिन इसके लिए पैसे पहले देने होंगे?रिपोर्टर का साथी- अच्छा, कैसे देने होंगे?कथित ठेकेदार- आपके पास पेटीएम है?रिपोर्टर का साथी- नहीं, मेरे पास तो नहीं है?कथित ठेकेदार- तो कुछ ऐसा कोई और जरिया?रिपोर्टर का साथी- नहीं मेरे पास नहीं है।कथित ठेकेदार- तो डेबिट कार्ड तो है ना उसका नंबर ही बता दो?रिपोर्टर का साथी- ठीक है मैं लेने जाता हूं डेबिट कार्ड?कथित ठेकेदार- कहां से लेकर आ रहे हो डेबिट कार्ड?रिपोर्टर का साथी- वो आज मेरा पर्स घर पर रह गया था?कथित ठेकेदार – अच्छा अच्छा ठीक है…। इसके बाद रिपोर्टर के इशारे पर उनका साथी फोन काट देता है।

आगे पढ़ें

पुलिस ने शुरू की जांच



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here