Chardham Yatra 2021: Priest Badrinath Dham March Today – चारधाम तीर्थपुरोहित आंदोलन: यात्रा शुरू करने की मांग लेकर हक-हकूकधारियों ने किया बदरीनाथ कूच, हाथों में दिखीं प्रसाद की थालियां

0
93


बदरीनाथ, अमर उजाला, देहरादून
Published by: Nirmala Suyal Nirmala Suyal
Updated Mon, 06 Sep 2021 12:22 PM IST

सार
Priest Badrinath Dham March : रोजाना की तरह सोमवार को भी बदरीनाथ के साकेत तिराहे पर क्रमिक धरना स्थल पर हक-हकूकधारियों की सभा हुई। इस दौरान तीर्थपुरोहित महापंचायत के अध्यक्ष कृष्णकांत कोठियाल ने आज आंदोलनकारियों के साथ बदरीनाथ कूच का एलान किया है।

प्रदर्शनकारियों के हाथों में दिखीं प्रसाद की थालियां
– फोटो : अमर उजाला

ख़बर सुनें

ख़बर सुनें

चारधाम यात्रा शुरू करने को लेकर उत्तराखंड के चारों धाम में तीर्थपुरोहितों का आंदोलन जारी है। इसी क्रम में आज सोमवार को हक-हकूकधारियों ने बदरीनाथ धाम कूच किया।पुलिस ने बैरिकेडिंग लगाईजिसे देखते हुए बदरीनाथ पुल के समीप पुलिस ने बैरिकेडिंग लगाई है। इस दौरान बदरीनाथ धाम कूच कर रहे हक-हकूकधारियों को पुलिस ने बदरीनाथ पुल पर रोक दिया। यहां प्रदर्शनकारियों और पुलिस के बीच धक्का-मुक्की की स्थिति बन गई। क्रमिक धरना स्थल पर हक-हकूकधारियों की सभा हुईरोजाना की तरह सोमवार को भी बदरीनाथ के साकेत तिराहे पर क्रमिक धरना स्थल पर हक-हकूकधारियों की सभा हुई। इस दौरान तीर्थपुरोहित महापंचायत के अध्यक्ष कृष्णकांत कोठियाल ने आज आंदोलनकारियों के साथ बदरीनाथ कूच का एलान किया है।बदरीनाथ धाम: हक-हकूकधारियों का धरना जारी, मुंडन कराकर सरकार के खिलाफ जताया आक्रोशबैरिकेडिंग होने के कारण आगे नहीं बढ़ पाए हक-हकूकधारी हक-हकूकधारी हाथ में बदरीनाथ धाम के प्रसाद के साथ साकेत तिराहे से बदरीनाथ धाम के लिए निकले, लेकिन पुल पर पुलिस की बैरिकेडिंग होने के कारण वे आगे नहीं बढ़ पाए। प्रसाद की थाली के साथ अभी भी आंदोलनकारी वहीं जमे हुए हैं।कृष्णकांत कोठियाल ने मुंडन करवाकर सरकार के खिलाफ आक्रोश जतायाइसके पहले सरकार की हठधर्मिता को देखते हुए रविवार को साकेत तिराहे पर चल रहे धरनास्थल पर चारधाम तीर्थ पुरोहित हक-हकूकधारी महापंचायत के अध्यक्ष कृष्णकांत कोठियाल ने मुंडन करवाकर सरकार के खिलाफ आक्रोश जताया। स्थानीय लोगों ने एलान किया कि जब तक यात्रा का संचालन शुरू नहीं किया जाता आंदोलन जारी रखा जाएगा। इस दौरान सरकार के खिलाफ नारेबाजी भी की गई।बदरीश संघर्ष समिति के अध्यक्ष राजेश मेहता ने कहा कि चारधाम यात्रा का संचालन न होने से यात्रा पड़ावों से लेकर धामों तक लोगों की आजीविका ठप पड़ गई है। सभी पर्यटन स्थल खोल दिए गए हैं, लेकिन चारधाम यात्रा का संचालन रोका गया है, जो गलत है।

विस्तार

चारधाम यात्रा शुरू करने को लेकर उत्तराखंड के चारों धाम में तीर्थपुरोहितों का आंदोलन जारी है। इसी क्रम में आज सोमवार को हक-हकूकधारियों ने बदरीनाथ धाम कूच किया।

पुलिस ने बैरिकेडिंग लगाई
जिसे देखते हुए बदरीनाथ पुल के समीप पुलिस ने बैरिकेडिंग लगाई है। इस दौरान बदरीनाथ धाम कूच कर रहे हक-हकूकधारियों को पुलिस ने बदरीनाथ पुल पर रोक दिया। यहां प्रदर्शनकारियों और पुलिस के बीच धक्का-मुक्की की स्थिति बन गई। 

क्रमिक धरना स्थल पर हक-हकूकधारियों की सभा हुई
रोजाना की तरह सोमवार को भी बदरीनाथ के साकेत तिराहे पर क्रमिक धरना स्थल पर हक-हकूकधारियों की सभा हुई। इस दौरान तीर्थपुरोहित महापंचायत के अध्यक्ष कृष्णकांत कोठियाल ने आज आंदोलनकारियों के साथ बदरीनाथ कूच का एलान किया है।
बदरीनाथ धाम: हक-हकूकधारियों का धरना जारी, मुंडन कराकर सरकार के खिलाफ जताया आक्रोश
बैरिकेडिंग होने के कारण आगे नहीं बढ़ पाए हक-हकूकधारी
हक-हकूकधारी हाथ में बदरीनाथ धाम के प्रसाद के साथ साकेत तिराहे से बदरीनाथ धाम के लिए निकले, लेकिन पुल पर पुलिस की बैरिकेडिंग होने के कारण वे आगे नहीं बढ़ पाए। प्रसाद की थाली के साथ अभी भी आंदोलनकारी वहीं जमे हुए हैं।

कृष्णकांत कोठियाल ने मुंडन करवाकर सरकार के खिलाफ आक्रोश जताया

इसके पहले सरकार की हठधर्मिता को देखते हुए रविवार को साकेत तिराहे पर चल रहे धरनास्थल पर चारधाम तीर्थ पुरोहित हक-हकूकधारी महापंचायत के अध्यक्ष कृष्णकांत कोठियाल ने मुंडन करवाकर सरकार के खिलाफ आक्रोश जताया। स्थानीय लोगों ने एलान किया कि जब तक यात्रा का संचालन शुरू नहीं किया जाता आंदोलन जारी रखा जाएगा। इस दौरान सरकार के खिलाफ नारेबाजी भी की गई।
बदरीश संघर्ष समिति के अध्यक्ष राजेश मेहता ने कहा कि चारधाम यात्रा का संचालन न होने से यात्रा पड़ावों से लेकर धामों तक लोगों की आजीविका ठप पड़ गई है। सभी पर्यटन स्थल खोल दिए गए हैं, लेकिन चारधाम यात्रा का संचालन रोका गया है, जो गलत है।



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here